...

रहस्यमय एवं विचित्र घटनाएं तथा संयोग | विचित्र संयोग | Mysterious and strange events and coincidences | strange coincidence

रहस्यमय एवं विचित्र घटनाएं तथा संयोग | विचित्र संयोग | Mysterious and strange events and coincidences | strange coincidence

एंथनी हॉपकिंस का विचित्र संयोग | strange coincidence of Anthony Hopkins


यह घटना प्रसिद्ध अभिनेता एंथनी हॉपकिंस (Anthony Hopkins) से संबंधित है । प्रसिद्ध अभिनेता एंथोनी हॉपकिन्स एक नाटक “गर्ल फ्रॉम पेट्रोव्का” का एक किरदार निभा रहे थे । किरदार को अच्छी तरह समझने के लिए वह उस किताब को ढूंढ रहे थे, जिसको आधार बनाकर नाटक लिखा गया था । किताब एक उपन्यास था एवं जिसके लेखक थे – जार्ज फीफर |

काफी ढूंढ़ने के बाद भी एंथोनी हॉपकिन्स को वह किताब बाजार में नहीं मिली । एक दिन उन्हें लंदन स्थित लीशेस्टर स्क्वायपर के भूमिगत रेलवे स्टेशन की एक सीट पर पड़ी लावारिस अवस्था में यह किताब मिल गई । शायद कोई इस किताब को पढ़ते-पढ़ते यहीं भूल कर चला गया था । हॉपकिन्स उस समय चकित रह गए, जब उन्हें पता चला कि यह किताब लेखक की निजी प्रति थी तथा लेखक ने अपनी हस्तलिपि में इसमें तमाम काट-छांट भी की थी, जैसाकि हॉपकिन्स चाहते थे । हॉपकिन्स कभी नहीं पता लगा पाए कि आखिर यह किताब किसने वहां छोड़ी थी ?

रहस्यमय एवं विचित्र घटनाएं तथा संयोग | विचित्र संयोग | Mysterious and strange events and coincidences | strange coincidence


यह संसार भी विचित्र है । यहां एक-से-एक अद्भुत अविश्वसनीय घटनाएं यदा-कदा घटित होती रहती हैं । कुछ संयोग तो इतने विचित्र तथा आश्चर्यजनक हैं कि सुनकर दंग रह जाना पड़ता है । ऐसे ही संयोग की एक अद्भुत घटना का उल्लेख विश्व प्रसिद्ध लेखक रुडयार्ड किपलिंग ने अपनी जीवनी में लिखा है

कि एक बार उन्होंने एक भुतही कहानी लिखी, जिसमें घटनास्थल पर बर्फ-ही-बर्फ दर्शाई गई थी । कहानी लिखने के बाद उन्हें वह ज्यादा पसंद नहीं आई । लिहाजा उन्होंने इस कहानी को रख दिया तथा सोचा कि मूल कथा में कुछ बदलावों के बाद ही वह इस कहानी को प्रकाशित करवाएंगे ।

कुछ दिन बाद वह अपने दंत चिकित्सक के यहां गए । वहां एक पत्रिका में छपी कहानी को पढ़कर वह आश्चर्य चकित रह गए । पत्रिका में ठीक वैसी ही कहानी, वैसे ही पात्र तथा घटनाएं थीं जैसी कि किपलिंग ने अपनी भुतही कहानी में लिखी थी । ऐसा लगता था, मानो किपलिंग की कहानी ही किसी ने छाप दी हो । किपलिंग इस घटना से सन्न रह गए, क्योंकि उन्हें पता था कि अगर उन्होंने अपनी कहानी भी छपने के लिए भेज दी होती, तो उन पर नकल करने का आरोप लगता ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Seraphinite AcceleratorOptimized by Seraphinite Accelerator
Turns on site high speed to be attractive for people and search engines.