वास्तु के अनुसार आफिस

Office According To Vastu


वास्तु के सिद्धांत न केवल  घर की विभिन्‍न जगहों पर बल्कि आफिस या दुकान की बनावट, साज-सज्जा और उठने-बैठने या कार्य करने की स्थिति पर भी लागू होते हैं | आइए, जानते हैं करियर मे कामयाबी पाने के लिए कुछ प्रभावकारी टिप्स :


उत्तर क्षेत्र कुबेर का स्थान है, जो धन की वृद्धि के लिए शुभ होता है | उत्तर दिशा की ओर मुंह करके कार्य करने से प्रोफेशन में सफलता मिलती है |

 

आफिस में बैठने की जगह आपकी पीठ और दीवार के बीच जगह नाममात्र की है, तो इससे आपको सकारात्मकता या अदृश्य समर्थन का एहसास होगा |

 

आप जहां बैठते हों, उसके पीछे की दीवार पर पहाड़ों के दृश्य वाले पोस्टर लगाएं | इनसे दीवार से मिलने वाला अदृश्य समर्थन और अधिक प्रभावशाली हो जाएगा |

 

किसी कॉन्फ्रेंस रूम में हो रही मीटिंग के दौरान दक्षिण-पश्चिम दिशा की ओर बैठना  चाहिए तथा आपकी सीट रूम के प्रवेश द्वार से दूर होनी चाहिए |

 

ऑफिस में इस्तेमाल किए जाने वाले फर्नीचर चौकोर होने चाहिए | ये फर्नीचर लकड़ी के हों, तो और भी बेहतर परिणाम मिल सकता है |  

                 

यदि आपके ऑफिस में अनुपयुक्त या टूटे हुए फर्नीचर हैं, इन्हें तुरंत बदलवा दें या इनकी तुरंत मरम्मत करवा लें |  

 

ऑफिस में किसी भी तरह के पानी का लीकेज हो, जैसे- पानी के जार में लीकेज या  बेसिन के नल से बूंदें टपकती रहती हों, तो इसे तुरंत ठीक करवा लें |

 

ऑफिस में दक्षिण-पूर्व में लैंप रख सकते हैं | काम के दौरान लैंप को जलाकर रखने से सकारात्मक ऊर्जा की अनुभूति होगी | साथ ही धन लाभ भी होगा |

 

ऑफिस की पूर्व दिशा में ताजा फूलों को जगह दें | गुलदस्ते में लगे रंग-बिरंगे फूल आपकी मनःस्थिति को संतुलित और प्रफुल्लित बनाए रखेंगे |

 

इलेक्ट्रानिक गैजेट्स, जैसे- कंप्यूटर, दूसरी मशीनें, हीटर, एयर कंडिशनर, प्रिंटर, फोटोकॉपी की मशीन आदि को दक्षिण-पूर्व दिशा में रखवाएं |

 

आप कलाकार, विद्यार्थी, लेखक, कारोबारी या फिर नेता हैं, तो अपना कमरा वास्तु के अनुरूप बनवाएं ताकि कार्य के प्रति सहजता का एहसास कर सकें |

 

आप किसी कंपनी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी हैं या आपका अपना कारोबार है, तो   अपने दफ्तर का कमरा दक्षिण-पूर्व की ओर रखें | चेहरा उत्तर की ओर होना चाहिए |

 

आफिस के उत्तर-पूर्व हिस्से को हमेशा साफ-सुथरा बनाए रखें | इस क्षेत्र में किसी भी तरह के अनावश्यक सामान न हों और इसमें हमेशा खुलेपन का एहसास हो |

 

यदि आप निर्माण संबंधी कार्य करते हैं, तो उत्पादन की नियमितता बनाए रखने के लिए इस कार्य का क्षेत्र दक्षिण-पश्चिम में बनाया जाना चाहिए |

 

ऑफिस के केबिन में वास्तु के अनुरूप लगाया गया दर्पण भी पैसे के आगमन में वृद्धि कर सकता है या फिर आपके करिअर को चमका सकता है |

 

आफिस के अकाउंट विभाग को उत्तर दिशा में बनाया जाना चाहिए | इसी तरह कैशियर को भी इसी हिस्से में बैठाया जाना चाहिए |                        

Post a Comment

और नया पुराने